Tag Archives: Hindi

तुम देशभक्त नहीं हो सकते!

तुम देशभक्त नहीं हो सकते!
© राजस देशपांडे

ईमानदारी से अपना काम करते हो,
नेकी से घर चलाकर, परमात्मा को पूजकर
अपने बच्चों को बापू की कहानी सुनाते हो,
पर तुम्हारे पास जबतक वक़्त नहीं है नारे लगाने का..
नेता की जूती को सर आँखों पर रखकर
मेरे चुने देशभक्ति के गीत गाने का…
तुम देशभक्त नहीं हो सकते!

मेहनत कर, पढ़ लिख कर देश की सेवा में
पीढ़ी दर पीढ़ी तुम्हारी भले ही वैज्ञानिक बनी हो..
देश विदेश में भले ही तुम्हरी बुद्धि, और कला
देश की गरिमा-सी सराही जाती हो
पर तुम्हारे पास जबतक वक़्त नहीं है नारे लगाने का..
नेता की जूती को सर आँखों पर रखकर
मेरे चुने देशभक्ति के गीत गाने का…
तुम देशभक्त नहीं हो सकते!

सीमा पर लड़ता हर स्वाभिमानी जवान भले ही
लड़ रहा हो देश की खातिर, मेरी तुम्हारी खातिर,
तुम्हारे मन में भी उसके प्रति हो भाई-भगवान सी भावना
पर तुम्हारे पास जबतक वक़्त नहीं है नारे लगाने का..
नेता की जूती को सर आँखों पर रखकर
मेरे चुने देशभक्ति के गीत गाने का…
तुम देशभक्त नहीं हो सकते!

लाखों मरीजों को भले ही तुम ज़िन्दगी देते हो
करोड़ों विद्यार्थियों को पाठशाला में अपनेही बच्चों जैसे
बढ़ाते पढ़ाते हो, नेकी की राह और देशप्रेम सिखलाते हो
पर तुम्हारे पास जबतक वक़्त नहीं है नारे लगाने का..
नेता की जूती को सर आँखों पर रखकर
मेरे चुने देशभक्ति के गीत गाने का…
तुम देशभक्त नहीं हो सकते!

इंसान को रंगों में बांटकर, तलवार छुरी चलाकर
इतिहास का बदला जबतक वर्तमान से लेते नहीं हो,
तुम देशभक्त नहीं हो सकते!
उबले खून की जवान नस्लों को गजरे बाँध
सोने में लथपथ लार टपकाना सिखाते नहीं हो..
तुम देशभक्त नहीं हो सकते!
भेड़ बकरियों की तरह ऊँगली उठने पर सलाम नहीं करते हो..
तुम देशभक्त नहीं हो सकते!

शिवाजी, सरदार और नानक के देश का शेर होकर भी
तुम्हारे पास जबतक वक़्त नहीं है नारे लगाने का..
नेता की जूती को सर आँखों पर रखकर
देशभक्ति के गीत गाने का…तुम देशभक्त नहीं हो सकते!
राजस देशपांडे
© Dr. Rajas Deshpande